अदरक के 17 चमत्कारी लाभ, उपयोग और नुकसान – Ginger (Adrak) Benefits and Side Effects in Hindi

Ginger (Adrak) Benefits

अदरक के 17 चमत्कारी लाभ, उपयोग और नुकसान – Ginger (Adrak) Benefits and Side Effects in Hindi








वर्षो से भारतीय रसोई में अदरक का उपयोग किया जाता रहा है। वजह है इसका खास स्वाद, लेकिन क्या आप जानते हैं कि भोजन में स्वाद लाने के साथ ही अदरक कई औषधीय गुणों से भी समृद्ध है। यही वजह है कि अदरक को कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से राहत पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जातक खाने के फायदे और बेहतर तरीके से समझने से  पहले यह जान लेना भी जरूरी है कि अदरक का उपयोग केवल घरेलू उपचार के तौर पर किया जा सकता है। इसे बताई जाने वाली समस्याओं का इलाज न समझा जाए। किसी भी बीमारी का इलाज डॉक्टरी सलाह पर ही निर्भर करता है।

 

अदरक खाने के फायदे - Benefits of Ginger in Hindi

 

पाचन तन्त्र को मजबूत करे

 

अदरक खाने के फायदे कई हैं, जिनमें पाचन प्रक्रिया में सुधार भी शामिल है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध से यह बात प्रमाणित होती है। शोध में माना गया कि अदरक कब्ज, पेट दर्द, पेट की ऐंठन, मरोड़ व गैस जैसी कई समस्याओं से राहत दिलाने में सहायक साबित हो सकता है।

 कैंसर से बचाव में सहायक

दरअसल, अदरक से संबंधित चूहों पर किए गए एनसीबीआई के शोध से इस बात की पुष्टि होती है। शोध में माना गया कि अदरक में एंटी इन्फ्लामेट्री (सूजन कम करने वाला) और एंटी-कैंसर (कैंसर के प्रभाव को कम करने वाला) गुण मौजूद होता है। इस गुण के कारण अदरक स्तन कैंसर, गर्भाशय के कैंसर और लिवर कैंसर से बचाव में सकारात्मक प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि अदरक खाने के फायदे कुछ हद तक कैंसर से बचाव में मददगार साबित हो सकते हैं। हालांकि, इसे कैंसर का इलाज नहीं कहा जा सकता।

 

कृपया ध्यान रखें :- कैंसर एक घातक और जानलेवा बीमारी है, इसलिए इसका डॉक्टरी परामर्श पर इलाज किया जाना अनिवार्य है।

 

अल्जाइमर में पहुंचाए लाभ
 

अल्जाइमर में बढ़ती उम्र के साथ लोगों में भूलने की समस्या देखी जाती है। अदरक का उपयोग कर इस समस्या के बढ़ते प्रभाव को काफी हद तक कन्ट्रोल  करने में हेल्प  मिल सकती है। इस बात को अदरक से संबंधित एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में भी स्वीकार किया गया है। शोध में माना गया कि अदरक में जिंजरोल, शोगोल और जिंजरोन जैसे कई फाइटोकेमिकल्स मौजूद होते हैं, जो दिमाग को संदेश पहुंचाने वाले न्यूरोन की प्राकृतिक क्षति को रोकने में मदद कर सकते हैं। इससे अल्जाइमर की समस्या में आराम मिल सकता है ।

 

मतली व उल्टी में आराम पहुँचाने में सहायक

 

मतली व उल्टी की समस्या में भी जिंजर के फायदे हासिल किए जा सकते हैं। यह बात इंटीग्रेटिव मेडिसिन इनसाइट्स द्वारा किए गए एक शोध से प्रमाणित होती है। शोध में पाया गया कि अदरक में एंटीएमेटिक (मतली और उल्टी के आभास को कम करने वाला) प्रभाव पाया जाता है। इस प्रभाव के कारण अदरक मुख्य रूप से गर्भावस्था और कीमोथेरेपी के बाद होने वाली मतली की समस्या से राहत दिला सकता है ।

 

 दर्द में राहत देता है

 अदरक में  Analgesic (दर्दनिवारक) गुण पाया जाता है। इस गुण के कारण अदरक खिलाड़ियों में अधिक तनाव के कारण होने वाले मांसपेशियों के दर्द पर व्यापक प्रभाव छोड़ सकता है । वहीं, दूसरी ओर तेहरान के शाहेद विश्विद्यालय द्वारा किए गए शोध में माना गया कि अदरक मासिक धर्म के दर्द को नियंत्रित कर सकता है ।

 

 मासिक धर्म में  अदरक के लाभ

अदरक में दर्द र्और सूजन को कम करने वाले गुण मौजूद होते हैं। यह गुण मांसपेशियों के खिंचाव और तनाव को दूर करने के साथ-साथ मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से राहत दिलाने में भी सहायक साबित हो सकते हैं । ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि मासिक धर्म की पीड़ा से बचाव के लिए भी जिंजर के फायदे कारगर साबित हो सकते हैं।

माइग्रेन में अदरक के फायदे

अदरक में पेनकिलर  गुण पाए जाते  हैं। यही  गुण माइग्रेन की प्रॉब्लम में भी सहायक साबित हो सकता है। अदरक का रस माइग्रेन के तीव्र दर्द को कन्ट्रोल  कर राहत  देने का काम कर सकता है।

 

हृदय स्वास्थ्य में अदरक के फायदे

 अदरक कई  औषधीय गुणों से भरपूर है। इनमें सूजन, मुक्त कणों का प्रभाव, खून जमने की प्रक्रिया, बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर और लिपिड को कन्ट्रोल करने  की पावर शामिल है। यही सारे इफेक्ट हार्ट को हेल्दी रखने में हेल्प करते हैं 

 

 ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल को कन्ट्रोल  करने में सहायक

 

 अदरक में हाइपोटेंसिव (ब्लड प्रेशर कम करने वाला) इफेक्ट पाया  जाता है ।   अदरक का रस लिपिड को कन्ट्रोल  करने के साथ ही बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी हेल्प  कर सकता है ।

 

 आर्थराइटिस में अदरक के फायदे

 

अदरक में  सूजन कम करने वाला और एनाल्जेसिक  दोनों गुण मौजूद होते हैं। इन दोनों गुणों के कारण अदरक आर्थराइटिस शरीर के जोड़ों  में दर्द से राहत दिलाने में हेल्प कर सकता है।  अदरक अन्य शारीरिक समस्याओं के साथ ही आर्थराइटिस की समस्या से भी राहत दिलाने का काम कर सकता है।

 

 डायबिटीज को कन्ट्रोल करने में सहायक

 

अदरक पर की गई एक रिसर्च में इसे डायबिटीज पर इफेक्टिव पाया  गया है। यह बढ़े हुए ब्लड शुगर की मात्रा को नियंत्रित करने के साथ ही इन्सुलिन की सक्रियता को बढ़ा देता  है ।

 

 

 वजन घटाने में अदरक के फायदे

 

अदरक एक फैट बर्नर की तरह काम कर सकता है और बड़ा हुआ पेट व  कमर और कूल्हों पर जमी चर्बी को कम करने में हेल्प फुल  हो सकता है।  यह मोटापा पैदा करने वाले कारकों को दूर रखने में भी मदद कर सकता है ।

 

प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाए

 

अदरक शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढा़ने में भी हेल्प कर  सकती है। इस बात की पुष्टि इंटरनेशनल जर्नल ऑफ प्रिवेंटिव मेडिसिन द्वारा किए गए एक शोध में पाया गया कि अदरक मे Antioxident(मुक्त कणों को नष्ट करने वाला) और एंटीइन्फ्लामेट्री (सूजन कम करने वाला) गुण तो पाया ही जाता है। साथ ही इसमें इम्यूनोन्यूट्रीशन (Immunonutrition) गुण भी मौजूद होता है। यानी यह प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देने में भी मददगार साबित हो सकता है । इसके लिए आप अदरक को चाय या काढ़े में इस्तेमाल कर सकते हैं ।

 

 इन्फेक्शन से बचाव में अदरक के फायदे

 

कई तरह की शारीरिक समस्याओं से राहत पाने के लिए अदरक का प्रयोग हो रहा है । इन समस्याओं में इन्फेक्शन से बचाव भी शामिल है। अदरक में बैक्टीरिया  को नष्ट करने वाला गुण मौजूद होता है। इस कारण यह विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया से होने वाले संक्रमण से बचाव करने में मदद कर सकता है ।

 

गैस सर्दी जुकाम में अदरक के फायदे

 

 Food science & Research के एक शोध के अनुसार   अदरक के गुण सामान्य सर्दी, जुकाम, गले की खराश और बुखार के संक्रमण से भी बचाव में कारगर साबित हो सकते हैं । सर्दी,बुखार के इन्फेक्शन  से बचने के लिए अदरक का शहद के साथ सेवन करना फायदेमंद हो सकता है।

 

त्वचा के लिए अदरक के फायदे

 मुंहासे और दाग धब्बों की समस्या से राहत दिलाने में अदरक के इस्तेमाल का  सकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकता है

 

 बालों के लिए अदरक के फायदे

 अदरक में सूक्ष्म  बैक्टीरिया को नष्ट करने वाला गुण पाया जाता है । बैक्टीरियल इन्फेक्शन के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं  । यदि  कोई बैक्टीरियल इन्फेक्शन के कारण बाल झड़ने की समस्या से परेशान है, तो यह अदरक के गुण हेल्प फुल  हो सकते हैं।

अदरक के अन्दर मौजूद तत्व  Ginger Nutritional Value in Hindi

 

पोषक तत्व      यूनिट   मात्रा प्रति 100 ग्राम

  • पानी    g            78.89
  • एनर्जी   Kcal       80
  • प्रोटीन   g            1.82
  • टोटल लिपिड (फैट)      g               0.75
  • कार्बोहाइड्रेट      g            17.77
  • फाइबर (टोटल डायट्री)    g               2
  • शुगर   g            1.7
  • मिनरल
  • कैल्शियम       mg         16
  • आयरन  mg         0.6
  • मैग्नीशियम     mg         43
  • फास्फोरस       mg         34
  • पोटेशियम       mg         415
  • सोडियम mg         13
  • जिंक    mg         0.34
  • कॉपर   mg         0.226
  • मैगनीज mg         0.229
  • सेलेनियम       µg          0.7
  • विटामिन
  • विटामिन सी     mg         5
  • थियामिन       mg         0.025
  • राइबोफ्लेविन    mg         0.034
  • नियासिन       mg         0.75
  • विटामिन बी-6   mg         0.16
  • फोलेट (डीएफई)  µg          11
  • विटामिन ई     mg         0.26
  • विटामिन के     µg          0.1
  • लिपिड
  • फैटी एसिड (सैचुरेटेड)     g               0.203
  • फैटी एसिड (मोनोअनसैचुरेटेड)       g            0.154
  • फैटी एसिड (पॉलीसैचुरेटेड) g               0.154 

 अदरक का यूज कैसे और कब करें  How to Use Ginger in Hindi

  • अचार के रूप में अदरक का  सेवन कर सकते हैं ।  
  • अदरक की चाय बनाकर पी सकते हैं।
  • अदरक को लंबा और पतला काट कर, फिर इस पर नमक-मिर्च नीबू लगाकर सुखा लें।  इसे आप कभी भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

मात्रा – एक  दिन में 100 मिलीग्राम  से लेकर दो ग्राम तक अदरक का सेवन किया जा सकता है ।


अदरक को ज्यादा दिनों तक  सुरक्षित कैसे रखें

 

  • अदरक को हमेशा  एयरटाइट डिब्बे में रखें।
  •  अचार अथवा सोंठ बनाकर भी अदरक को लंबे अंतराल के लिए सुरक्षित रखा जा सकता है।

 

 

अदरक के साइड इफेक्ट्स– Side Effects of Ginger in Hindi

  • शुगर की दवा लेने वालों में इसका अधिक सेवन लो ब्लड शुगर का कारण बन सकता है ।
  •  अदरक ब्लड  को पतला  कर सकता है। इस कारण कुछ महिलाओं को इसके अधिक सेवन से मासिक धर्म में अधिक रक्त स्त्राव की समस्या हो सकती है ।

 

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q- क्या गुड़ और अदरक साथ में खा सकते  हैं?


A -जी, बिल्कुल


Q- क्या खाली पेट अदरक खाना ज्यादा फायदेमंद 

है?

A -जी ! पाचन संबंधी दिक्कत में खाली पेट लिया जा सकता है

Q - क्या अदरक व  शहद साथ में ले सकते हैं?

A- हां, बिल्कुल

No comments

Powered by Blogger.